in ,

नवरात्रि में अपनी राशि अनुसार दान करें – जाने क्या और कैसे ?

Photo by Sonika Agarwal on Unsplash

नवरात्रों में माँ के पसंद के अनुसार और २०२० में आपके राशि के हिसाब से जो शुभ है , उसी प्रकार दान दे , इससे माता की विशेष कृपा आपको अवश्य प्राप्त होगी। माँ प्रकृति का स्वरुप है , तो इन नवरात्रों में अपनी इच्छा पूर्ति के लिए अपने राशि के अनुसार व्यवहार भी करें।

मेष राशि के लिए साल 2020 में लाल रंग सबसे शुभ रहने वाला है, नवरात्रि के प्रथम दिन मां शैलपुत्री का पूजन किया जाता है। जिनका प्रिय रंग लाल है .इसलिए लाल रंग की चुनरी माता को चढ़ाएं , कन्याओं को लाल रंग की पुष्प , वस्त्र , खिलोने , मुंग की दाल , गुड आदि दान करें, शादी में यदि किसी की बाधा आ रही है तो वह इस दिन अवस्य दान करें , अपने बड़ों को प्रसन्न रखें।

वृष राशि के लिए साल 2020 में सफ़ेद रंग सबसे शुभ रहने वाला है, नवरात्रि के छठे दिन मां आदिशक्ति के कात्यायनी स्वरुप की पूजा की जाती है , जिनका प्रिय रंग स्वेत है , इसलिए चांदी की आभूषण माता को चढ़ाएं , या दान करें , कन्याओं को सफ़ेद रंग की पुष्प , वस्त्र , खिलोने , चावल , दूध , मिश्री , चीनी आदि दान करें, गरीबों को दान दे और भोजन कराये , चेहरे पर मुस्कराहट रहे , जब किसी से भी मिलो।

मिथुन राशि के लिए साल 2020 में हरा रंग सबसे शुभ रहने वाला है, नवरात्री के नवरात्रि के तृतीय दिन मां चंद्रघंटा को पूजा जाता है , जिनका प्रिय रंग हरा है ,हरे रंग की चुनरी माँ को चढ़ाएं , इस दिन हरा पहने , हरे रंग की श्रृंगार सामग्री दान करें , हरे फल , वस्त्र , खिलोने आदि दान करें, गरीबों को दान दे और भोजन कराये , पेड़ पौधे लगाएं , और पेड़ पौधों की सेवा करें।

कर्क राशि के लिए साल 2020 में बैगनी रंग सबसे शुभ रहने वाला है, नवरात्रि के आखिरी दिन पूजी जाती हैं सिद्धिदात्री माता , माता को नीला ,बैगनी रंग बहुत पसंद है , बैगनी रंग की श्रृंगार सामग्री दान करें , कन्याओं को बैगनी रंग के वस्त्र , खिलोने , गुड , घी , आदि दान करें , गरीबों को भोजन कराये, और नवरात्री के दौरान किसी से विवाद में न पढ़े। रोज कोई एक अच्छा काम करें , और गुस्सा बिलकुल नहीं।

सिंह राशि के लिए साल 2020 में गुलाबी रंग सबसे शुभ रहने वाला है, आठवें दिन पूजे जाने वाली माता महागौरी का प्रिय रंग गुलाबी है , इस दिन गुलाबी पहने , कन्याओं को गुलाबी रंग के वस्त्र , खिलोने , किताबें , मिठाई आदि दान करें , गरीबों को दान दे और भोजन कराये , दूसरों की निंदा न करें।

कन्या राशि के लिए साल 2020 में हल्का हरा रंग सबसे शुभ रहने वाला है, नवरात्री के नवरात्रि के तृतीय दिन मां चंद्रघंटा को पूजा जाता है, जिनका प्रिय रंग हरा है ,हरे रंग की चुनरी माँ को चढ़ाएं , इस दिन हरा पहने , हरे रंग की श्रृंगार सामग्री दान करें , हरे फल , वस्त्र , खिलोने आदि दान करें, गरीबों को चावल , दाल दे , पेड़ पौधे लगाएं , और पेड़ पौधों की सेवा करें।

तुला राशि के लिए साल 2020 में सफ़ेद रंग सबसे शुभ रहने वाला है,नवरात्रि के छठे दिन मां आदिशक्ति के कात्यायनी स्वरुप की पूजा की जाती है , जिनका प्रिय रंग स्वेत है , इसलिए चांदी की आभूषण माता को चढ़ाएं , या दान करें , कन्याओं को सफ़ेद रंग की पुष्प , वस्त्र , खिलोने , चावल , दूध , मिश्री , चीनी आदि दान करें, चेहरे पर मुस्कराहट रहे , जब किसी से भी मिलो।

वृश्चिक राशि के लिए साल 2020 में नारंगी रंग सबसे शुभ रहने वाला है, नवरात्रि के पंचम दिन मां स्कंदमाता की पूजा की जाती है, माँ का प्रिय रंग नारंगी है ।उस दिन नारंगी रंग के कपड़े पहनें. कन्याओं को नारंगी रंग की पुष्प , वस्त्र , खिलोने ,गुड , गाय का घी आदि दान करें, घर में उत्सव जैसा माहौल रखें , सबसे से प्रेम पूर्वक व्यव्हार करें , बड़ों का आशीर्वाद ले , छोटों को आशीर्वाद दें।

धनु राशि के लिए साल 2020 में पीला रंग सबसे शुभ रहने वाला है,नवरात्रि के द्वीतीय दिन मां ब्रह्मचारिणी को पूजा जाता है , जिनका प्रिय रंग पीला होता है , उस दिन पीले रंग के कपडे पहने , कन्याओं को पीले रंग की पुष्प , वस्त्र , खिलोने ,दाल , किताबें , गाय का घी आदि दान करें, और क्रोध बिलकुल न करें , गरीबों को खाना खिलाएं, गौ सेवा करें ।

मकर राशि के लिए साल 2020 में हरा रंग सबसे शुभ रहने वाला है, नवरात्री के नवरात्रि के तृतीय दिन मां चंद्रघंटा को पूजा जाता है, जिनका प्रिय रंग हरा है ,हरे रंग की चुनरी माँ को चढ़ाएं , इस दिन हरा पहने , हरे रंग की श्रृंगार सामग्री दान करें , हरे फल , वस्त्र , खिलोने आदि दान करें, गरीबों को चावल , दाल दे , पेड़ पौधे लगाएं , और पेड़ पौधों की सेवा करें।

कुम्भ राशि के लिए साल 2020 में नीला सबसे शुभ रहने वाला है, नवरात्रि के नवम या नवमी तिथि को मां सिद्धिदात्री को पूजा जाता है , माँ का पसंदीदा रंग नीला है , नीले रंग की श्रृंगार सामग्री दान करें , कन्याओं को नीले रंग के वस्त्र , खिलोने , तेल , घी , आदि दान करें , गरीबों को भोजन कराये, और नवरात्री के दौरान किसी से विवाद में न पढ़े। रोज कोई एक अच्छा काम करें , और गुस्सा बिलकुल नहीं।

मीन राशि के लिए साल 2020 में पीला सबसे शुभ रहने वाला है, नवरात्रि के द्वीतीय दिन मां ब्रह्मचारिणी को पूजा जाता है , जिनका प्रिय रंग पीला होता है , उस दिन पीले रंग के कपडे पहने , कन्याओं को पीले रंग की पुष्प , वस्त्र , खिलोने ,दाल , किताबें , गाय का घी आदि दान करें, और क्रोध बिलकुल न करें , गरीबों को खाना खिलाएं, गौ सेवा करें ।

नोट : आप अपनी इच्छा और शक्ति अनुसार किसी एक चीज का भी दान कन्याओं को कर सकते हैं। लेकिन अगर राशि अनुसार इन चीजों का दान किया जाए तो इससे माता की विशेष कृपा आपको अवश्य प्राप्त होगी।

जाने अपना या फिर अपने बच्चों के जीवन के अंकशास्त्र को , जिससे आप बेहतर सोच पाएं

नंबर 1 के व्यक्ति जाने अपना या फिर अपने बच्चों के भविष्य को , यदि आप किसी भी महीने के 1, 10, 28 तारीख को पैदा हुए हैं , click on the link in blue color

नंबर 2 के व्यक्ति जाने अपना या फिर अपने बच्चों के भविष्य को , यदि आप किसी भी महीने के 2, 11, 20 तारीख को पैदा हुए हैं

नंबर 3 के व्यक्ति जाने अपना या फिर अपने बच्चों के भविष्य को , यदि आप किसी भी महीने के 3, 12, 21, 30 तारीख को पैदा हुए हैं

नंबर 4 के व्यक्ति जाने अपना या फिर अपने बच्चों के भविष्य को , यदि आप किसी भी महीने के 4,13, 22, 31 तारीख को पैदा हुए हैं

नंबर 5 के व्यक्ति जाने अपना या फिर अपने बच्चों के भविष्य को , यदि आप किसी भी महीने के 5, 14, 23 तारीख को पैदा हुए हैं

नंबर 6 के व्यक्ति जाने अपना या फिर अपने बच्चों के भविष्य को , यदि आप किसी भी महीने के 6, 15, 24 तारीख को पैदा हुए हैं

नंबर 7 के व्यक्ति जाने अपना या फिर अपने बच्चों के भविष्य को , यदि आप किसी भी महीने के 7, 16, 25 तारीख को पैदा हुए हैं

नंबर 8 के व्यक्ति जाने अपना या फिर अपने बच्चों के भविष्य को , यदि आप किसी भी महीने के 8, 17, 26 तारीख को पैदा हुए हैं

नंबर 9 के व्यक्ति जाने अपना या फिर अपने बच्चों के भविष्य को , यदि आप किसी भी महीने के 9, 18, 27 तारीख को पैदा हुए हैं

What do you think?

Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading…

0

कंगना की आग

आपकी कौन सी इच्छा यदि पूरी नहीं हुई , तो आप भूत बन कर घूमोगे ?